स्मिथ, वार्नर के न रहने से युवा बल्लेबाजों को नहीं मिला मार्गदर्शन : हेजलवुड

3
साभार

मेलबर्न : आस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज जोश हेजलवुड का मानना है कि स्टीवन स्मिथ और डेविड वार्नर के न रहने से टीम के युवा बल्लेबाजों को मार्गदर्शन की कमी रही जो पाकिस्तान, भारत और श्रीलंका के खिलाफ सीरीजों में देखने को मिली। स्मिथ और वार्नर पर क्रिकेट आस्ट्रेलिया (सीए) ने बीते साल केपटाउन में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेले गए टेस्ट मैच में बॉल टेम्परिंग के कारण एक-एक साल का प्रतिबंध लगा दिया था। हेजलवुड का मानना है कि मार्कस हैरिस, ट्रेविस हेड और मार्नस लाबुस्शाने को दूसरे छोर से कोई मार्गदर्शन देने वाला अनुभवी खिलाड़ी नहीं मिला।

वेबसाइट ईएसपीएनक्रिकइंफो ने हेजलवुड के हवाले से लिखा, “जब भी स्टीव स्मिथ बल्लेबाजी करने जाते थे अधिकतर समय वह शतक जमाते थे। यह शायद पहली बार हुआ है कि शीर्ष-6 बल्लेबाजों में कोई सीनियर बल्लेबाज नहीं है जो सीखा सके इसलिए नए खिलाड़ियों को सभी कुछ प्रशिक्षकों से सीखना होता है।” उन्होंने कहा, “जब आप टीम में युवा खिलाड़ी लेकर आते हो तो जरूरी होता है कि आपके पास सीनियर खिलाड़ी भी हों। आप सभी कुछ प्रशिक्षकों से नहीं सीख सकते। आप विकेट पर सीनियर खिलाड़ियों के साथ समय बिताते हुए सीखते हो।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here