टाटा मुंबई मैराथन में खिताब बचाने उतरेंगे गोपी और सुधा

4
साभार

मुंबई : मौजूदा चैम्पियन गोपी थोनाकल और सुधा सिंह यहां 20 जनवरी को होने वाली टाटा मुंबई मैराथन-2019 में क्रमश: पुरुष और महिला वर्ग के फुल मैराथन वर्ग में अपना खिताब बचाने उतरेंगे। एशियाई मैराथन चैम्पियन गोपी को इस रेस में कोर्स रिकॉर्डधारी नितेंद्र सिंह रावत और यहां दो बार खिताब जीत चुके करण सिंह से कड़ी चुनौती मिलने की उम्मीद है। गोपी ने पिछली बार दो घंटे,16 मिनट और 15 सेकेंड का समय लेकर खिताब अपने नाम किया था। नितेंद्र ने दो घंटे, 15 मिनट और 48 सेकेंड के समय के साथ कोर्स रिकॉर्ड बनाया था।

2017 में एशिया मैराथन का खिताब जीत चुके गोपी का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन रियो ओलम्पिक-2016 में था जब उन्होंने दो घंटे, 15 मिनट और 31 सेकेंड का अपना सर्वश्रेष्ठ व्यक्तिगत समय निकाला था। गोपी का यह समय विदेशी धरती पर किसी भी भारतीय द्वारा सबसे तेज समय है।

नितेंद्र 2016 में साउथ एशियन गेम्स फुल मैराथन में भाग ले चुके हैं, जहां उन्होंने दो घंटे, 15 मिनट और 18 सेकेंड में रेस को पूरा किया था। इसके अलावा वह एयरटेल दिल्ली हाफ मैराथन-2017 में एक घंटे, 3 मिनट और 53 सेकेंड के समय के साथ राष्ट्रीय रिकॉर्ड स्थापित कर चुके हैं। महिला वर्ग में मौजूदा चैम्पियन सुधा और दो बार की मुंबई मैराथन विजेता ज्योती गावते पर सबकी निगाहें होंगी।

सुधा ने पिछले साल ही एशियाई खेलों में 3000 मीटर स्टीपलचेज स्पर्धा में रजत पदक जीता था। वह इंडियन ओपन और टाटा स्टील कोलकाता 25के मैराथन में दूसरे नंबर पर रही थीं। सुधा का सर्वश्रेष्ठ व्यक्तिगत समय चीन में हुई विश्व चैम्पियनशिप-2015 और एयरटेल दिल्ली हाफ मैराथन-2016 में है।

पुरुषों के हाफ मैराथन वर्ग में कालिदास हिरावे और मानसिंह अपनी-अपनी चुनौती पेश करेंगे। वहीं महिला वर्ग में मंजू यादव और साइगीता नायक खिताब के प्रबल दावेदार हैं। पुरुष वर्ग में फुल मैराथन विजेता को पांच लाख रुपये की इनामी राशि और हाफ मैराथन में एक लाख 50 हजार रुपये की इनामी राशि दी जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here