भाग्याशाली हूं कि ऐसा दोबारा कर सका : वुड्स

6
साभार फाइल फोटो

लंदन : अपना 15वां मेजर खिताब जीतने वाले अनुभवी गोल्फ खिलाड़ी टाइगर वुड्स ने कहा है कि वह अगस्ता नेशनल कोर्स पर एक बार फिर खिताब जीतने पर खुद को भाग्यशाली मानते हैं। वुड्स ने यहां अगस्ता नेशनल कोर्स पर 11 साल बाद अपने करियर का 15वां मेजर खिताब जीता। इससे पहले उन्होंने 1997, 2001, 2002 और 2005 में मास्टर्स खिताब जीता था। वुड्स ने 13 अंडर पार पर फिनिश करते हुए हम वतन खिलाड़ी डस्टिन जॉनसन अंडर-12, शेंडर श्कॉफेल अंडर-12) और ब्रुक्स कापेका अंडर-12 को पीछे छोड़ा।

वुड्स के करियर का कुल पांचवा मास्टर्स खिताब है। उन्होंने यहां 14 साल पहले 2005 में जीत दर्ज की थी। अंग्रेजी अखबार गार्जियन ने वुड्स के हवाले से लिखा है, “मैं जितनी भी परेशानियों से लड़ा, उसके बाद यह जीत हासिल करने को लेकर मैं अपने आप को भाग्यशाली मानता हूं।” पिछले 11 वर्ष वुड्स के लिए बेहद कठिन रहे। उन्हें कई बार अपनी पीठ का ऑपरेशन कराना पड़ा और कई व्यक्तिगत परेशानियों से भी जूझना पड़ा।

वुड्स ने कहा कि यह जीत उनके 15 मेजर खिताबों में से शीर्ष पर है। उन्होंने कहा, “यह जीत सबसे ऊपर है।” वुड्स ने इस बात को माना कि पिछले साल जब वह फ्रांसेस्को मोलिनारी ओपन का खिताब जीतने से चूक गए थे तब उनके बच्चे काफी निराश थे और इसलिए वह यह खिताब जीतने के लिए प्रतिबद्ध थे। उन्होंने कहा, “मैं ऐसा दोबारा नहीं होने दूंगा। उनके लिए उनके पिता को मेजर खिताब जीतते देखना बड़ी बात है। उम्मीद है कि वह इसे कभी नहीं भूलेंगे।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here